भोजन में ज़रूर शामिल करें आवंला और पाये तंदुरुस्त स्वस्थ जीवन | Amla juice ke Gun aur Swasth

0
33
views
आंवले को विटामिन C का सबसे बड़ा स्रोत माना जाता हैं। हिन्दू धर्म में आंवले के पेड़ की पूजा तक भी की जाती हैं। माना जाता हैं कि आंवले की पेड़ के नीचे खाना पकाने और खाने से शरीर के कई रोग दूर हो जाते हैं।
पेड़ पर गुच्छों में लगता है आंवला और विटामिन सी से भरपूर होता है। इसके साथ ही आंवले में कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट भी पर्याप्त मात्रा में होता है।
Image result for amla juice
हर महीने महिलाओं को होने वाली मासिक धर्म की परेशानी में होने वाले दर्द से छुटकारा देता है। आवंला में मौजूद होते हैं मिनिरल्स व विटामिन ये दोनों मिल कर इस परेशानी को दूर करते है और महिलाओ को होने वाली बैचैनी व दर्द से आराम देते है।
कहा जाये तो इसमें बहुत जरुरी तत्व होते है जो महिलाओं के महत्वपूर्ण होते हैं और काम आते हैं ।
आंवला में बहुत अधिक मात्रा में फाइबर भी होता है जो आंतों के ज़रिये से भोजन को ले जाने में मदद करता है और पेट साफ रखने व मल त्याग को नियमित रखता है।
पथरी की समस्या में भी आंवला कारगर साबित होता है। पथरी के मरीजों को आंवला का चूर्ण और मुरब्बा भी फायदा देता है पथरी होने पर 40 दिन तक आंवले को सुखाकर उसका पाउडर बना लें, और उस पाउडर को प्रतिदिन मूली के रस में मिलाकर खाएं।
इस प्रयोग से कुछ ही दिनों में पथरी गल जाती है, अगर लेख पसंद आया हो तो अपने विचार कमेंट में दें और शेयर करें …
http://feeds.feedburner.com/TheAwaaz

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here