मां बमलेश्वररी के नाम पर लाल मिर्च के हवन करने से मिलती है मनमांगी दुआ #jaimatadi

0
249
views
आज आपको जानकारी देंगे छत्तीसगढ़ राज्य के डोंगरगढ़ मंदिर की ये है मां बमलेश्वररी का मंदिर, यहाँ आने के लिए हजारों सीढियाँ पार करके आना  होता है, नवरात्री के दौरान यहाँ हजारों में भक्त आते हैं ।
हिन्दू धर्म के अनुसार पूरी दुनिया में माँ शक्ति के करीब इक्यावन शक्तिपीठ हैं, और हर मंदिर अपने चमत्कार के लिए जाना जाता है, हजारों की संख्या में लोग आते हैं और अपनी मनोकामना पूरी करते हैं ।
इस मंदिर के बारे में एक नृत्यांगना और संगीतकार की प्रेम कहानी कही जाती है इसी वजह से ये मंदिर प्रसिद्द हुआ !
ऐसा कहते है कि यहाँ के राजा कामसेन संगीत और कला के पुजारी थे । उसी दरबार में कामकंदला नाम की सुंदर और कला में निपुण नर्तकी थी।
यही पर एक संगीतकार भी था जिसका नाम माधवानल था। दोनों के बीच कब प्रेम हो गया था ये उन्हें भी पता नहीं चला, जब राजा को ये बात की भनक लगी तो उसने माधवानल को राज्य से बाहर करवा दिया ।


Image result for मां बमलेश्वरी


तब माधवानल अपने न्याय के लिए उज्जैन के राजा विक्रमादित्य की शरण में गए। उसने राजा विक्रमादित्य से कामकंदला से मिलने की गुहार लगाई । राजा विक्रमादित्य ने राजा कामसेन को जब आदेश दिया कि वो दोनों प्रेमियों को मिलने की अनुमित दें, लेकिन कामसेन के मना कर देने पर दोनों के बीच युद्ध छिड़ गया।
दोनों एक से बढ़ कर एक वीर योद्धा थे। एक महाकाल का भक्त था तो दूसरा मां विमका का दोनों के बीच युद्ध होते देख महाकाल और मां विमला भी अपने भक्तों की मदद करने लगीं । ऐसा माना जाता है कि युद्ध बढ़ते देख दोनों राजाओं के ईष्टो देवताओं ने कामकंदला और माधवानल को मिलवा दिया ।
इसके बाद राजा विक्रमादित्य ने मां विमलेश्वरी से पहाड़ी में प्रतिष्ठित होने का आशीर्वाद माँगा । बस तभी से यहां पर मां बमलेश्वंरी मंदिर स्थित है और मां लोगों की अधिष्ठात्री देवी हैं।


एक विशेष प्रकार का हवन यहाँ मशहूर है, यहाँ हवन सामग्री में लाल मिर्च का प्रयोग किया जाता है, कहते है कि लाल मिर्च शत्रुओं का नाश करती है, इसीलिए ये हवन किया जाता है, ये भी कहते हैं कि अगर अपनी मनोकामना पूरी करना चाहते हैं तो इस मंदिर में ज़रूर जाएँ, इस मंदिर में आने वाले हर भक्त कि मनोकामना पूरी होती है
http://feeds.feedburner.com/TheAwaaz

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here