समर्पण

0
268
views
माँ और पिता
आपने मुझे जीवन दिया
सांसे दी …
चलना सिखाया, गति दी
शब्द दिए
बोलना सिखाया
अब आप ही बताइये
आप की दी हुई
शक्ति को
आपको ही कैसे समर्पित करूँ ??
मुझे केवल एक ही रास्ता सूझता है
की आपकी दी हुई शक्ति को
आपके वारिस तक पहुचाऊं
बेटी आकर्षिता को एक भेंट
इस उम्मीद के साथ की
इस पुस्तक के साथ वह
अपनी माँ के और निकट आएगी
मेरी दिशा
मेरी जीवन आधार
आकर्षिता को
समर्पित
#Surabhi
http://feeds.feedburner.com/TheAwaaz

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here